न्यूट्रीगेन पाउडर के फायदे,नुकसान। nutrigain powder ke fayde in hindi

आज के आधुनिक युग और बदलते जीवनशैली के कारण हर कोई सुन्दर,स्वस्थ्य और आकर्षक दिखना चाहता हैं जिसके यह जरुरी हैं की आपके शरीर का वजन सही और संतुलित हो। 

वजन बढ़ने के लिए आज बाजार मैं बहुत से वेट गेन पाउडर और सुप्प्लिमेंट उपलब्ध हैं आज हम ऐसे ही एक वेट गेन पाउडर के बारे मैं बात करने वाले हैं जिसका नाम हैं न्यूट्रीगेन हैं। 

इस लेख केमाध्यम से हम  न्यूट्रीगेन पाउडर के फायदे ,नुकसान सेवन विधि ,सावधानिया ,कीमत तथा इसमें उपस्थित घटक सामग्री के बारे मैं जानेगे । 


न्यूट्रीगेन पाउडर क्या हैं? nutrigain powder in hindi

Nutrigain पाउडर शारीरिक वजन बढ़ने वाला एक हेल्थ सुप्प्लिमेंट हैं जिसके निर्माता आयुर्विन फार्मा प्राइवेट लिमिटेड हैं। 

न्यूट्रीगेन पाउडर को बनाने मैं कई प्रकार की आयुर्वेदिक औषधियों का प्रयोग गया हैं जो की हमारे शरीर के लिए बेहद फ़ायदेमंद  होते है न्यूट्रीगेन पाउडर का इस्तेमाल महिला और पुरुष दोनों कर सकते हैं। 

यह भी पढ़े : स्वास सम्बन्धी रोगो के लिए हैं पतंजलि की यह दवाई।


न्यूट्रीगेन पाउडर के फायदे। nutrigain powder benefits in hindi 

न्यूट्रीगेन पाउडर के यह मुख्य लाभ हैं जो हमें इसके नियमित इस्तेमाल से देखने को मिलते हैं। 

1. यह बिना हमारे पाचन तंत्र को बिना नुक्सान पहुचाये वजन बढ़ाने मैं मदद करता हैं। 

2. नुएट्रीगेन पाउडर मैं उपस्थित औषधियां शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाती हैं जो की हमें सामान्य होने वाले रोगो से लड़ने मैं मदद करती हैं। 

3. इसमें मौजूद प्रोटीन और खनिज तत्व शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं और शरीरिक शक्ति को बढ़ने मैं कारगर हैं। 

4.  न्यूट्रीगेन पाउडर मैं अश्वगंधा और शतावर जैसे औषधियों का उपयोग किया गया हैं जो की मासपेशियों एवं हड्डियों को मजबूती और सुरक्षा प्रदान करते हैं। 

5. न्यूट्रीगेन पाउडर पाचन तंत्र को बेहतर बनाती है और भूख को बढ़ाती हैं।

यह भी पढ़े : इकोप्रोट पाउडर के फायदे


न्यूट्रीगैन पाउडर के नुकसान।nutrigain powder side effects in hindi

न्यूट्रीगैन पाउडर अथवा उत्पाद मैं दिए गए जानकारी के अनुसार इसमें शामिल औषियों के वैसे तो कोई दुष्प्रभाव अभी तक ज्ञात नही हुए हैं।

लेकिन किन्ही स्थितियों मैं इसके दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते है तो आइए जानते है की न्यूट्रीगैन पाउडर के नुकसान क्या हैं।

  • यदि आप किसी गभीर पेट संबंधी समस्या पीड़ित है तो न्यूट्रीगैन पाउडर के इस्तेमाल से बचे अन्यथा इसके दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं।
  • ऐसे व्यक्ति जो की हाई डायबिटीज के मरीज हैं उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए यदि सेवन करते भी हैं तो चिकित्सक की सलाह जरूर लें।
  • हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को इसका सेवन डॉक्टर की सलाह से करना चाहिए।
  • अधिक मात्रा मैं और गलत तरीके से न्यूट्रीगैन पाउडर का सेवन करने पर इसके दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं।
  • एक्सपायरी न्यूट्रीगैन पाउडर का सेवन यदि कोई करता हैं तो भी इसके दुष्प्रभाव हो सकते हैं।
  • पाचन सही न होने पर यदि इसका सेवन किया जाता हैं तो दस्त जैसी समस्या देखने को मिल सकती हैं।

न्यूट्रीगैन पाउडर के दुष्प्रभाव से जुड़े आपके कुछ व्यक्तिगत अनुभव है तो कमेंट के मध्यम से हमारे साथ जरूर शेयर करें यह हमारे और हमारे पाठको के लिए एक महत्वपूर्ण जानकारी होगी।

यह भी पढ़े : मेधा वटी के यह फायदे हैं।


न्यूट्रीगैन पाउडर सम्बंधित सावधानी

न्यूट्रीगैन पाउडर के सेवन से कुछ स्थितियों मैं बचने और सावधानी रखने की अवश्यकता होती हैं।

तो आइए जानते है की किन लोगो को एवम कब न्यूट्रीगैन पाउडर का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

1.गर्भवती महिलाओ को इसके सेवन नही करना चाहिए यदि करना भी चाहते है तो चिकित्सक की सलाह जरूर लें क्योंकि इस पर साफ तौर पर लिखा हैं की यह गर्भवती महिलाओ यह रिकमेंड नही है ।

2. ऐसे लोग जो की शराब का सेवन करते हैं उन्हें न्यूट्रीगैन पाउडर का सेवन शराब पीने के बाद नही करना चहिए।

3. न्यूट्रीगैन मैं उपस्थित किसी घटक सामग्री से यदि आपको किसी प्रकार की एलर्जी है तो इसका सेवन न करें।

4. ऐसी महिलाएं जो की हाल ही मैं मां बनी है तथा शिशु को स्तनपान कराती है उन्हे इसका सेवन नही करना चहिए। यदि करते भी है तो डॉक्टर की सलाह से ही करना चहिए।

यह भी पढ़े : कायाकल्प वती के हैं यह फायदे


न्यूट्रीगैन पाउडर सेवन विधि।nutrigain powder uses in hindi

न्यूट्रीगैन पाउडर का इस्तेमाल कैसे करें?किसी दवाई अथवा औषधी को लेने का एक निश्चित मात्रा नियम और समय होता है तभी यह अपना कार्य सही ढंग से करती हैं और आपको फ़ायदा पहुंचाती हैं।

तो आइए जानते हैं की न्यूट्रीगैन पाउडर का सेवन किस प्रकार करना चाहिए।

निर्देश: न्यूट्रीगैन पाउडर मैं दिए गए निर्देश के अनुसार एक गिलास दूध में 25 ग्राम पाउडर को अच्छे से मिलाकर दिन मैं एक से बार सेवन करना चाहिए।

सावधानी : दूध से किसी प्रकार की एलर्जी या समस्या होने पर न्यूट्रीगेन पाउडर का सेवन पानी से करे।

दुविधा: यदि आपको इसकी मात्रा ओर लेने की प्रक्रिया को लेकर किसी प्रकार की दुविधा है तो एक बार चिकित्सक की सलाह जरूर लें।

क्योंकि न्यूट्रीगैन की मात्रा व्यक्ति के शारीरिक स्वास्थ्य,उम्र, जीवनशैली ओर जरूरत पर भी निर्भर करता हैं।

यह भी पढ़े : श्वसारी वटी के फायदे


न्यूट्रीगैन पावडर के घटक समग्री।nutrigain powder side effects in hindi

1.अश्वगंधा

गुण: शारीरिक कमजोरी को दूर करे,पेट के लिए फायदेमंद, बालों ओर त्वचा के लिए फायदेमंद, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाए।

2.शतावर

गुण: शारिरिक कमजोरी को दूर करे, यौन दुर्बलता मैं उपयोगी, वीर्य की कमी को दूर करे,सर्दी जुकाम मैं उपयोगी,कब्ज मैं राहत दिलाए।

3.गोक्षुरु

गुण: पाचन शक्ति को मजबूत बनाए, मूत्र विकार मैं उपयोगी, पथरी की समस्या मैं लाभकारी,मशपाशियों को मजबूत बनाए और ताकत प्रदान करे,शरीर को ऊर्जा प्रदान करे।

4.द्राक्षा

गुण: पाचन क्रिया को बेहतर बनाए,रक्त विकार मैं लाभकारी, वीर्यवर्धक, खून बढ़ाए।

5.अमलकी

गुण: खून को दूषित होने से बचाएं,पेट के लिए लाभकारी, एनीमिया मैं फ़ायदा पहुंचाए, बालो के लिए फायदेमंद, वात पित्त और कफ को संतुलित रखने में मदद करे।

6.जीरका

गुण: पाचन के लिए उपयोगी,भूख बढ़ाने में सहायक,एसिडिटी की समस्यां मई उपयोगी। 

7.शुंटी

गुण : पाचन तंत्र को मजबूत बनाये ,भूख को बढ़ाने मैं उपयोगी , बदहजमी , सर्दी जुखाम मैं लाभकारी। 

8.पीपली

गुण : शारीरिक कमजोरी करे,एनिमिआ मैं लाभकारी,आंतो के लिए फायदेमंद ,पाचन तंत्र को मजबूत बनाये। 

9.मरिचा

गुण : भूख बढ़ने मैं सहायक ,सर्दी जुखाम मैं उपयोगी ,यौन दुर्बलता को दूर करने मैं सहायक ,शरीरक कमजोरी को दूर करे और ऊर्जा प्रदान करे। 

10.खरजूरा

गुण : रोग प्रति रोधक क्षमता को बढ़ाये ,पाचन तंत्र को स्वस्थ्य रखे,खून की कमी को दूर करे ,आयरन की कमी को दूर करे। 

11.सरिवा

गुण: भूक बढ़ाने मैं सहायक, पाचन करोईया को स्वस्थ्य बनाये ,शारीरिक बल को बढ़ाय।

Bablu Bhengra
Spread the love

Leave a Comment