पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए आयुर्वेदिक दवा। कमजोर पाचन की आयुर्वैदिक औषधि 

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए आयुर्वेदिक दवा। पाचन तंत्र मजबूत करने आयुर्वेदिक दवा । पाचन शक्ति बढ़ाने की Syrup। पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए योग


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए आयुर्वेदिक दवा: शरीर को स्वस्थ्य बनाए रखने के लिए पाचन शक्ति का मजबूत होना बहुत जरूरी है। पाचन तंत्र के लिए विभिन्न प्रकार की दवाएं और उपचार चिकित्सा जगत मैं मौजूद है तथा इस लेख मैं हम पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए आने वाली आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में जानेंगे।

तथा इन दवाओं का उपयोग कैसे किया जाता है और इनके इस्तेमाल के दौरान आपको कौन-कौन सी सावधानियां रखनी चाहिए एवं इन दवाओ से जुड़े  फायदे और नुकसान के बारे में भी हम इस लेख में जानेंगे।


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए आयुर्वेदिक दवा।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए कौन सी दवा अच्छी है? पाचन शक्ति को बढ़ाने के लिए चिकित्सा जगत में विभिन्न प्रकार की दवाई उपलब्ध है तथा इस लेख में हम ऐसे ही कुछ चुनिंदा दवाइयां के बारे में आपको बताने वाले हैं तो लिए पाचन शक्ति को मजबूत बनाने वाले आयुर्वेदिक दवाइयों के बारे में जानते हैं

1. पंचारिष्ट

पंचारिष्ट का नाम आपने कभी ना कभी जरुर सुना होगा पंचारिष्ट का निर्माण विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक दवाई कंपनी करती हैं पंचारिष्ट पाचन शक्ति को मजबूत करने और पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए बहुत ही अच्छी आयुर्वेदिक दवाई है। इसके उपयोग से पाचन संबंधी समस्याएं दूर होती है और पाचन शक्ति को मजबूत बनाने में मदद मिलती है।

यह पेट से संबंधित समस्याएं जैसे कि अपच , गैस ,एसिडिटी और लंबे समय से होने वाली कब्ज की समस्या को दूर करती है।

2. कुमार्यासव

कुमार्यासव आयुर्वेदिक चिकित्सा जगत में एक जानी-मानी औषधि है पाचन स्वास्थ्य से जुड़े मामलों के लिए यह एक बहुत ही फायदेमंद औषधि है। इसमें पिपली ,लवंग, दालचीनी, विडंग और मुनक्का जैसी विभिन्न प्रकार की औषधियां को सम्मिलित किया गया है।

यह पेट से जुड़े मामले जैसे की भूख न लगना, अम्ल पित्त ,अपच ,पेट में वायु भरना ,खाने के बाद पेट में दर्द होना और भोजन न पचाने जैसी समस्याओं के लिए बेहद लाभकारी है।

3. अभयारिष्ट

पाचन शक्ति को मजबूत करने और पेट से जुड़े मामलों के लिए अभयारिष्ट एक बहुत कारगर आयुर्वेदिक दवाई है इसमें हरित्की, मुनक्का ,गोखरू ,सौंफ और धनिया जैसी औषधीय का उपयोग किया गया है।

अभयारिष्ट सिरप कब्ज एसिडिटी गैस जैसी समस्याओं से राहत पाने में बेहद कारगर दवाई है।  यह पाचन शक्ति को बेहतर बनाता है और बवासीर से जुड़े मुद्दे जैसे की गुदा मार के आसपास होने वाले मस्सों का दर्द और सौच के समय होने वाली तकलीफों को दूर करने में मदद करता है।

4. पंचासव

पंचासव जिसे पांच प्रकार के आसवो से बनाया गया है इसमें बलारिष्ट, द्राक्षासव , कुमार्यासव ,दशमूलारिष्ट और लोहासव को सम्मिलित किया गया है। यह पाचन शक्ति को बेहतर बनाकर शारीरिक कमजोरी को दूर करती है तथा संपूर्ण पाचन और शारीरिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है।

पंचासव के सेवन से पाचन शक्ति मजबूत होती है पाचन संबंधी समस्याओं में सुधार होता है तथा खून की कमी, भूख न लगना, लंबी बीमारी के कारण आई कमजोरी जैसी समस्याओं के निदान के लिए पंचासव का सेवन बहुत ही फायदेमंद है।

5.डायजिफोर्ट 

पाचन शक्ति बढ़ाने की Syrup: डायजिफोर्ट जिसे पंचासव के नाम से भी जाना जाता है इसके मुख्य घटकों मैं पिपली, चव्य, चित्रक ,पिपली मूल और शुंथि शामिल किया गया है। डायजिफोर्ट के सेवन से भूख न लगना , अपच, कब्ज जैसी समस्यायों मैं लाभ मिलता है तथा पाचन तंत्र मजबूत होता है।

6. त्रिगुणासव

त्रिगुणासव जिसमे तीन प्रकार के आसवों को सम्मिलित किया गया है इसमें द्राक्षासव कुमार्यासव और लोहासव  को सम्मिलित किया गया है यह पाचन से जुड़े मामलों के लिए बहुत फायदेमंद होता है यह पाचन शक्ति को मजबूत बनाता है और शारीरिक कमजोरी को दूर करता है इसके अलावा है भूख की कमी , खून की कमी को भी दूर करता है।

यह भी पढ़े


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए आयुर्वेदिक दवा नुक़सान।

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए उपयोग की जाने वाली दवाएं पूर्णतः आयुर्वेदिक हैं तथा यही कारन हैं की इसके दुष्प्रभावों के बारे मैं कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है अथवा अज्ञात हैं। 

लेकिन कुछ स्थितियों में इन दवाओं के दुष्प्रभाव शरीर पर हो सकते हैं तो आईए जानते हैं कि पाचन तंत्र मजबूत करने की दवा के क्या नुकसान हो सकते हैं।

  • निर्धारित मात्रा से अधिक और गलत तरीके से इन दवाईयों का सेवन किया जाता है तो ऐसी स्थिति में इसके दुष्प्रभाव शरीर पर हो सकते हैं।
  • शराब पीने के बाद यदि कोई व्यक्ति इन दवाओं का उपयोग करता है तो ऐसी स्थिति में भी इसके दुष्प्रभाव शरीर पर हो सकते हैं क्योंकि यह शराब के साथ मिश्रित होकर शरीर पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है।
  • ऐसे व्यक्ति जो की किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है और बिना अपने चिकित्सक की सलाह के पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए इन दवाओं का सेवन करते हैं तो ऐसी स्थिति में भी इसके दुष्प्रभाव होने के मौके बन सकते हैं।
  • पाचन तंत्र मजबूत करने दवाओं मैं उपस्थित किसी घटक सामग्री से एलर्जी होने के बावजूद भी यदि इसका सेवन किया जाता है तो ऐसी स्थिति में भी इसके दुष्प्रभाव शरीर पर हो सकते हैं।
  • एक्सपायर हो चुके दवाओं का सेवन किए जाने पर भी इसके दुष्प्रभाव शरीर पर देखने को मिल सकते हैं। अथवा उपयोग से पहले पाक पर एक्सपायरी डेट अवश्य चेक करें।

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए बताई गई दवाओं के इस्तेमाल के दौरान किसी भी प्रकार के दुष्प्रभावों का अनुभव होने पर इसका सेवन बंद कर दे और तुरंत चिकित्सक से संपर्क करे। 

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए उपयोग की जाने वाली दवाओं के दुष्प्रभावों से जुड़े यदि आपके कुछ व्यक्तिगत अनुभव या जानकारी है तो कमेंट के माध्यम से हमारे साथ जरूर शेयर करें यह हमारे और हमारे पाठकों के लिए एक महत्वपूर्ण जानकारी होगी।

यह भी पढ़े


पाचन तंत्र मजबूत करने की दवा से संबंधित सावधानी। 

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए इन दवाओं का उपयोग करने से पहले कुछ महत्वपूर्ण बातें हैं जिन्हें ध्यान में रखना बेहद जरूरी है इन सावधानियां को यदि आप ध्यान में रखते हैं तो अनजाने में होने वाली कई प्रकार के नुक़सान से बच सकते हैं।

  • गर्भवती महिलाओं को इन दवाओं  का सेवन चिकित्सक की सलाह के बाद ही करना चाहिए।
  • ऐसे व्यक्ति जो वर्तमान समय में किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है और उपचार ले रहे हैं उन्हें इन दवाओं का सेवन अपने चिकित्सक की सलाह के बाद ही करना चाहिए।
  • हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज के मरीजों को इसका सेवन अपने चिकित्सक की सलाह के बाद ही करना चाहिए।
  • ऐसी महिलाएं जो की हाल ही में मां बनी है और अपने शिशु को स्तनपान कराते हैं उन्हें इन दवाओं सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए।
  • इन दवाओं मैं उपस्थित घटक सामग्री से किसी भी प्रकार की एलर्जी अथवा समस्या होने पर इसका का सेवन न करें।
  • पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए इन दवाओं का सेवन पैक पर दिए गए निर्देश अथवा चिकित्सक द्वारा बताए गए तरीकों से ही सेवन करें।
  • अन्य किसी भी दवाई अथवा सप्लीमेंट्स के साथ इन दवाओं का सेवनकरने से पहले अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।
  • पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए इन दवाओं का सेवन करने से पहले अपनी वर्तमान स्वास्थ्य स्थिति पर अच्छे से समीक्षा करें।
  • इन दवाओं का सेवन करने से पहले पैक पर दिए गए सभी महत्वपूर्ण निर्देशों को ध्यानपूर्वक पड़े।

यह भी पढ़े


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए योग।

योग के नियमित अभ्यास से शरीर को स्वस्थ और निरोग बनाए रखने में बहुत मदद मिलती है तथा योग में इतनी ताकत होती है कि इससे विभिन्न प्रकार के रोगों को भी ठीक किया जा सकता है तथा पाचन तंत्र को मजबूत बनाने के लिए यहां कुछ योगासन के बारे में हमने बताया है।

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए योग:

  • पश्चिमोत्तानासन
  • त्रिकोणासन
  • उष्ट्रासन
  • धनुरासन
  • वज्रासन
  • कपालभाति

यह भी पढ़े


FAQ: पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए आयुर्वेदिक दवा।

Q: पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए कौन सी दवा अच्छी है?

Ans: पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए पंचारिष्ट, पंचासव, अभ्यारिष्ट, कुमार्यासव दवा अच्छी है।

Q: कौन सी गोली पाचन में सुधार करती है?

Ans: पाचन मैं सुधार के लिए लिव अमृत, लिव अमृत एडवांस, लिव 52 और लिव 52 डीएस का उपयोग किया जा सकता है।

Q:  कमजोर पाचन कैसे ठीक करें?

Ans: कमजोर पाचन को स्वस्थ्य खान पान , अच्छी दिन चर्या ,योगा, प्राणायाम और सही उपचार से ठीक किया जा सकता है।

Bablu Bhengra
Spread the love

Leave a Comment