वीर्य को गाढ़ा करने की 5 अचूक दवा पतंजलि। Patanjali medicine for sperm thickness in hindi

वीय को गाढ़ा करने की दवा पतंजलि। वीय को बढाने के उपाय। वीय को गाढ़ा करने का उपाय। वीय को गाढ़ा करने की होम्योपैथिक दवा। वीय को गाढ़ा करने की दवा Ayurvedic। वीय का पतलापन उपचार


बदलते खान पान और जीवन शैली ने पुरषों के स्वास्थ्य को बहुत प्रभावित किया है जिसकी वजह से कई प्रकार की यौन समस्याएं पुरषों मैं देखने को मिलती है जिसमे से एक है वीर्य का पतला होना वीर्य को गाढ़ा करने के लिए अनेकों प्रकार की दवाएं आज बाजार मैं उपलब्ध है।

तथा इस लेख मैं हम वीर्य को गाढ़ा करने की दवा पतंजलि के बारे जानेंगे साथ ही साथ इसका उपयोग केसे किया जाता है और इसके इस्तेमाल के दौरान कौन सी सावधानियां रखनी चाहिए इसके बारे में भी हम इस लेख मे जानेंगे।

ALSO READ


वीर्य को गाढ़ा करने की दवा पतंजलि। Patanjali medicine for sperm thickness in hindi

वीर्य का पतलापन उपचार:

1.वीर्य को गाढ़ा करने के लिए पतंजलि कोंचबीज चूर्ण।

कोच बीज शुक्राणु के संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए बहुत ही उपयोगी औषधि मानी जाती है यह शुक्राणु की संख्या बढ़ाने तथा इसकी गुणवत्ता में सुधार करने और वीर्य को गाढ़ा करने के लिए बहुत उपयोगी औषधि है। तथा पतंजलि कौंच भी चरण का उपयोग करके वीर्य को गाढ़ा करने मैं मदद मिल सकती है।

सेवन विधि: एक-एक चम्मच सुबह शाम भोजन के बाद एक गिलास गुनगुने दूध के साथ सेवन करें।

2. पतंजलि संततिसुधा टैबलेट।

दिव्य संततिसुधा पतंजलि आयुर्वेद का एक नया और बेहतर उत्पाद है जिसमें पुत्र जीवक शिवलिंगी बीज शतावर और कौंच बीज का उपयोग किया गया है यह पुरुष और महिला के संपूर्ण यौन स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होती है इसके अलावा यह है पुरुषों में वीर्य को गाढ़ा करने के लिए भी बहुत उपयोगी हो सकती है।

सेवन विधि: दो-दो गोली सुबह शाम भोजन के पहले खाली पेट गुनगुने जल के साथ सेवन करें।

ALSO READ


वीर्य को गाढ़ा करने की दवा Ayurvedic। Ayurvedic medicine for sperm thickness in hindi

3.पतंजलि दिव्य यौवनामृत वटी।

पतंजलि दिव्या यौवनामृत वटी पुरुषों के लिए एक बहुत ही फायदेमंद दवाई है। इसमें जावित्री ,जायफल,केसर सफेद मूसली, कौंच बीज, और स्वर्ण भस्म समेत शतावर ,मकरध्वज का इस्तेमाल किया गया है। जोकि पुरुषों में होने वाले सभी प्रकार के यौन समस्याओं के उपचार के लिए फायदेमंद होता है जिसमें यह पुरुषों के वीर्य को गाढ़ा करने के लिए भी बहुत लाभदायक होता है

इसके अलावा पतंजलि यौवनामृत वटी ढलती आयु और थके कमजोर शरीर वालों के लिए भी अत्यंत बल वर्धक और पुष्टि कारक औषधि है।

सेवन विधि: दो दो गोली सुबह शाम भोजन के बाद सामान्य जल अथवा गुनगुने दूध के साथ सेवन करें।

4.पतंजलि दिव्य यौवनग्रिट वटी।

दिव्या यौवनग्रिट वटी पतंजलि आयुर्वेद का एक नया और बहुत ही कारगर उत्पाद है। इसमें अश्वगंधा ,पान रस ,शुद्ध कौंच, शतावर ,गोंद ,मूसली, जावित्री ,जायफल ,स्वर्ण भस्म ,वंग भस्म ,शिलाजीत समेत साल ममीश्री जैसी सक्रिय औषधीय को सम्मिलित किया गया है जो की शुक्राणुओं से संबंधित रोगों के उपचार व नपुंसकता जैसे बीमारियों के उपचार में उपयोगी होता है इसके सेवन से वीर्य को गाढ़ा करने में काफी मदद मिल सकती है।

सेवन विधि: दो दो गोली सुबह शाम सुबह नाश्ते के बाद वह शाम को खाने के बाद गुनगुने दूध अथवा सामान्य जल के साथ सेवन करें।

5. पतंजलि दिव्य चंद्रप्रभा वटी।

पतंजलि दिव्य चंद्रप्रभा वटी एक बहु उपयोगी और शादी है जिसका उपयोग कई प्रकार के रोगों के उपचार के लिए किया जाता है तथा वीर्य को गाढ़ा करने के लिए भी पतंजलि चंद्रप्रभा वटी एक बहुत अच्छा विकल्प है क्योंकि इसमें शुद्ध शिलाजीत, शुद्ध गूगल और तेजपत्र जैसी सक्रिय औषधियां सम्मिलित की गई है।

सेवन विधि: दो दो गोली दिन में दो या तीन बार गुनगुने जल के साथ भोजन के बाद सेवन करें।

ALSO READ


वीर्य को गाढ़ा करने की दवा पतंजलि के नुक़सान,दुष्प्रभाव, साईड इफेक्ट। Patanjali medicine for sperm thickness side effects in hindi

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए उपयोग की जाने वाली पतंजलि दवाएं पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक हैं तथा यही कारण है कि इसके दुष्प्रभावों के बारे में चिकित्सा जगत में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है अथवा अज्ञात है लेकिन कुछ स्थितियों में इसके दुष्प्रभाव हमें देखने को मिल सकते हैं।

तो आईए जानते हैं कि वीर्य को गाढ़ा करने के लिए पतंजलि दवाओं के क्या साइड इफेक्ट्स होते हैं।

  • निर्धारित मात्रा से अधिक और गलत तरीके से इन दवाओं का सेवन किए जाने पर इसके दुष्प्रभाव शरीर पर हो सकते हैं।
  • शराब पीने के बाद यदि कोई व्यक्ति इन दवाइयां का सेवन करता है तो ऐसी स्थिति में भी इसके दुष्प्रभाव शरीर पर हो सकते हैं क्योंकि यह अल्कोहल के साथ मिश्रित होकर शरीर पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है।
  • ऐसे व्यक्ति जो कि किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है और वह बिना अपने डॉक्टर की सलाह के इन दवाइयां का सेवन करते हैं तो ऐसी स्थिति में भी इसके दुष्प्रभाव हो सकते हैं।
  • वीर्य को गाढ़ा करने के लिए उपयोग की जाने वाली पतंजलि की दवाइयां में उपस्थित किसी घटक सामग्री से एलर्जी होने के बावजूद भी यदि इनका सेवन किया जाता है तो ऐसी स्थिति में भी इसके दुष्प्रभाव हो सकते हैं।
  • एक्सपायर हो चुके दवाइयां का उपयोग किए जाने पर भी इनके दुष्प्रभाव शरीर पर हो सकते हैं तथा इनका उपयोग करने से पहले एक्सपायरी डेट अवश्य चेक करें।

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए उपयोग की जाने वाली पतंजलि दवाओं के इस्तेमाल के दौरान किसी भी प्रकार के दुष्प्रभावों का अनुभव होने पर इसका सेवन बंद कर दे और तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें।

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए उपयाेग की जाने वाली पतंजलि दवाओं के दुष्प्रभावों से जुड़े यदि आपके कुछ व्यक्तिगत अनुभव या जानकारी है तो कमेंट के माध्यम से हमारे साथ जरूर शेयर करें यह हमारे और हमारे पाठकों के लिए एक महत्वपूर्ण जानकारी होगी।

ALSO READ


वीर्य को गाढ़ा करने की दवा पतंजलि से संबंधित सावधानी। Patanjali medicine for sperm thickness warnings & precautions in hindi

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए उपयोग की जाने वाली पतंजलि दवाइयां का सेवन करने से पहले कुछ सावधानियां है जिन्हें ध्यान में रखना बेहद जरूरी होता है।इन महत्वपूर्ण बातों को यदि आप ध्यान में रखते हैं तो अनजाने में होने वाली कई प्रकार की हानियो से बच सकते हैं।

  • ऐसे व्यक्ति जो कि वर्तमान समय में किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है और उपचार ले रहे हैं उन्हें इन दावों का सेवन डॉक्टर की सलाह के बाद ही करना चाहिए।
  • हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज के मरीजों को इन दावों का सेवन अपने चिकित्सक की सलाह के बाद ही करना चाहिए।
  • वीर्य को गाढ़ा करने के लिए उपयोग की जाने वाली पतंजलि दवाओं में उपस्थित किसी घटक सामग्री से एलर्जी अथवा किसी प्रकार की समस्या होने पर इन दवाओं का सेवन न करें।
  • अन्य किसी भी दवाई अथवा सप्लीमेंट्स के साथ इन दवाइयां का सेवन करने से पहले चिकित्सक की परामर्श अवश्य लें।
  • वीर्य को गाढ़ा करने के लिए पतंजलि की दवाओं का सेवन पाक पर दिए गए निर्देश अथवा चिकित्सक द्वारा बताए गए तरीकों से ही सेवन करें।
  • इन दावों का उपयोग करने से पहले पाक पर दिए गए सभी महत्वपूर्ण निर्देशों को ध्यानपूर्वक पड़े।
  • वीर्य को गाढ़ा करने के लिए पतंजलि की दवाओं का उपयोग करने से पहले अपनी वर्तमान स्वास्थ्य स्थिति पर अच्छे से समीक्षा करें।

ALSO READ


वीर्य को गाढ़ा करने का उपाय। Home remedies for sperm thickness in hindi

1. दो से चार मुनक्को (बीज निकालकर) सुबह और शाम खाली पेट सेवन करने से वीर्य को गाढ़ा करने में लाभ मिलता है।

2. 1 से 2 कली लहसुन को कूटकर एक चम्मच शहद के साथ मिलकर सुबह और शाम भोजन के आधे घंटा बाद सेवन करने से वीर्य को गाढ़ा करने में काफी मदद मिल सकती है। इसके अलावा यह शुक्राणु अल्पता में भी लाभ मिलता है।


वीर्य को गाढ़ा करने की होम्योपैथिक दवा। Homeopathy for sperm thickness in hindi

होम्योपैथिक एक बहुत ही पुरानी और कागज चिकित्सा पद्धति है जिसमें सभी रोगों के लिए उपचार और दवाइयां मौजूद हैं तथा वीर्य को गाढ़ा करने के लिए होम्योपैथिक दवाइयां में शामिल है:

  • विंडफ्लॉवर
  • लाइकोपोडियम क्लैवाटम
  • नैट्रम म्यूरिएटिकम
  • कैल्केरिया कार्बोनिका
  • अग्नस कास्टस
  • थूजा ऑक्सिडेंटलि

जानकारी स्त्रोत: myupchar.com

Bablu Bhengra
Spread the love

Leave a Comment