6 सबसे फायदेमंद पेशाब खुलकर आने की आयुर्वेदिक दवा। पेशाब खुलकर आने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि

पेशाब खुलकर आने की आयुर्वेदिक दवा: महिला हो या पुरुष पेशाब संबंधित समस्याएं अक्सर में देखने को मिलती है जिसमें से एक है पेशाब खुलकर न आना पेशाब खुलकर न आने की विभिन्न प्रकार की समस्या हो सकती है।

तथा आयुर्वेद में इस समस्या का बहुत अच्छा उपचार है तथा इस लेख में हम पेशाब खुलकर आने के लिए उपयोग की जाने वाली आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में जानेंगे।


पेशाब खुलकर आने की आयुर्वेदिक दवा।

आयुर्वेदिक चिकित्सा भारत की पुरानी और कागज चिकित्सा पद्धति है जिसमें सभी प्रकार के रोगों के लिए उपचार और दवाइयां मौजूद हैं तथा पेशाब खुलकर आने के लिए विभिन्न प्रकार की दवाएं आयुर्वेदिक चिकित्सा मैं उपलब्ध है आइए इन दवाओं के बारे मैं विस्तार से जानते है।

1.गोक्षुरादि गूगल 

गोक्षुरादि गूगल आयुर्वेद चिकित्सा में एक जानी-मानी और कारगर दवाई है जिसका निर्माण अलग-अलग आयुर्वेदिक दवाई कंपनी करती है गोक्षुरादि गूगल के मुख्य घटकों में गोखरू, गूगल, त्रिफला ,काली मिर्च और नागरमोथा जैसी सक्रिय औषधि सम्मिलित है जो की मूत्र संबंधित समस्याएं जैसे की पेशाब खुलकर न आना ,पेशाब रुक रुक कर आना ,पेशाब में जलन और मूत्र संबंधित अन्य समस्याओं के उपचार के लिए फायदेमंद होती है।

2. चंद्रप्रभा वटी

चंद्रप्रभा वटी आयुर्वेदिक चिकित्सा मैं एक जाना माना नाम है यह एक बहुउपयोगी दवाई है इसके मुख्य घटकों के रूप में गोखरू गूगल शिलाजीत पुनर्नवा जैसी सक्रिय औषधि सम्मिलित होती है जो पेशाब संबंधित समस्याओं को दूर करने में बहुत फायदेमंद होती है इसके अलावा यह यूरिन इन्फेक्शन जैसे मामलों के उपचार में भी बहुत फायदेमंद होती है।

यह भी पढ़े

3. श्वेत पर्पटी भस्म

श्वेत पर्पटी आयुर्वेद चिकित्सा में उपयोग की जाने वाली एक आयुर्वेदिक दवाई है यह मुख्य रूप से पोटेशियम नाइट्रेट फिटकरी और अमोनियम क्लोराइड का एक मिश्रण होता है।

यह मूत्र संबंधित समस्याओं के उपचार में फायदेमंद होता है यह पेशाब खुल कर न आना, पेशाब में जलन, दर्द जैसी समस्याओं में उपयोगी होता है इसके अलावा यह गुर्दे की पथरी जैसे रोग में भी उपयोग की जाने वाली एक फायदेमंद दवाई है।

4. हज़रूल यहूद भस्म

हज़रूल यहूद भस्म एक आयुर्वेदिक दवाई है जिसका निर्माण अलग-अलग दवाई कंपनियां करती हैं इसका उपयोग गुर्दे की पथरी और मूत्र संबंधी समस्याओं के उपचार के लिए किया जाता है इसके उपयोग से पेशाब में जलन दर्द और पेशाब खुलकर न आने की समस्या को दूर किया जा सकता है।

यह भी पढ़े


पेशाब खुलकर आने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि।

पतंजलि आयुर्वेद भारत की जानी-मानी आयुर्वेदिक दवाई कंपनी है जो विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक दवाई और स्वदेशी उत्पाद बनाने के लिए जानी जाती है तथा पेशाब खुलकर आने के लिए पतंजलि की कई दवाएं आती हैं जिनके बारे में हम आगे जानेंगे।

1. पतंजलि गोखरू क्वाथ

मूत्र संबंधित समस्याओं के लिए गोखरू एक बहुत ही फायदेमंद औषधि मानी जाती है तथा पतंजलि गोखरू क्वाथ गोखरू का एक शुद्ध रूप है जिसका उपयोग काढ़ा बनाकर किया जाता है इसके उपयोग से पेशाब संबंधित समस्याएं जैसे की पेशाब में जलन ,पेशाब खुलकर न होना, पेशाब रुक कर आना और अन्य मूत्र संबंधित समस्याओं में लाभ मिलता है।

2. पतंजलि दिव्य त्रिघन वटी

पतंजलि दिव्य त्रिघन वटी पतंजलि आयुर्वेद का एक नया उत्पाद है जिसे पतंजलि रिसर्च सेंटर द्वारा टेस्टेड और वेरीफाइड किया गया है इसे गोखरू के अर्थ से तैयार किया गया है।

तथा यह पेशाब में जलन पेशाब, पेशाब खुलकर न आना , पेशाब रुक रुक कर आना और यूरिन इन्फेक्शन जैसी समस्याओं के उपचार में बेहद लाभकारी दवाई है इसके अलावा इसका उपयोग गुर्दे की पथरी जैसी समस्याओं में भी उपयोग किया जाता है।

3. पतंजलि चंद्रप्रभा वटी और गोक्षुरादि गूगल

जैसा की हमने पहले ही इस लेख मैं आपको बताया है की आयुर्वेद चिकित्सा में पेशाब संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए चंद्रप्रभा वटी और गोक्षुरादि गूगल एक बहुत ही फायदेमंद दवाई है।

तथा बाकी अन्य दवाई कंपनियों की तरह ही पतंजलि आयुर्वेद भी चंद्रप्रभा वटी और गोक्षुरादि गूगल का निर्माण करती है तथा यदि आप पतंजलि की दवाओ का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो इन दोनों दवाइयों का सेवन कर लाभ ले सकते हैं।

Bablu Bhengra
Spread the love

Leave a Comment